Breaking News

रेसिपी: गर्मी को दें मात घरेलू और भारतीय ड्रिंक्स से

चिलचिलाती गर्मी में कोल्ड ड्रिंक्स या डिब्बाबंद जूस पीने से केवल गला ही तर होता है, तन – मन में शीतलता नहीं आती. पर हमारे देसी ड्रिंक्स ऐसे हैं कि एक गिलास से ही पूरे शरीर में तरावट कि लहर दौड़ जाती है.

चिलचिलाती गर्मी का मौसम किसे अच्छा लगता है, लेकिन इस मौसम के चिल्ड ड्रिंक सबको जरूर ही पसंद होंगे. जी हाँ, आम पना और शिकंजी जैसे देसी ड्रिंक कौन नहीं पीना चाहेगा. ये देसी ड्रिंक्स गर्मी से तो राहत देते ही हैं और सेहत का भी ख्याल रखते हैं. तभी तो गर्मी कि शान माने जाने वाले ये शरबत खास गर्मियों में हर किसी के फेवरिट बन चुके हैं. सच कहें तो तन-मन को तर करने वाले पारम्परिक भारतीय पेय का कोई सानी नहीं है. ये देसी ड्रिंक्स शरीर को शीतल करने के साथ गर्मी से भी बचते हैं. चूँकि ये पेय विभिन्न देसी चीजों से बने होते हैं, इसलिए इनकी अपनी न्यूट्रिशनल वैल्यू होती है और डिब्बाबंद पेय की तरह केमिकल युक्त नहीं होते हैं. पुराने समय में लोग इन्हीं देसी नुस्खों से गर्मी में कूल रहा करते थे. लू या अन्य गर्मीजनित बीमारियों से बचने के लिए लोग कच्चा प्याज, कच्चा आम, नीम्बू और सत्तू आदि को अपने आहार में शामिल कर लिया करते थे. समय के साथ हमारे खानपान की आदते बदली और हमने पैकेट बंद चीजों को अपनाना शुरू कर दिया, लेकिन कुछ पारम्परिक चीजें आज भी हमारी पसंद में शामिल हैं, जैसे गर्मियों के रामबाण कहे जाने वाले ये देसी ड्रिंक्स.

  1. शिकंजी

सामग्री:

पानी: 4 गिलास
नीम्बू: 2
चीनी: 8 बड़े चम्मच
काला नमक: आधा चम्मच
आइस क्यूब: आवश्यकतानुसार

कैसे बनाये:

सबसे पहले नीम्बू का रस निकालकर उसमे चीनी मिलाएं और पानी मिलकर मिश्रण को अच्छी तरह घोल ले. स्वादानुसार काला नमक, आइस क्यूब मिलाएं. इसमें आप भुना जीरा पाउडर भी मिला सकते हैं. सर्व करने से पहले पुदीना पत्ता और नीम्बू की गोल स्लाइस डालें.

फायदे:

नीम्बू शिकंजी गर्मियों में सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला ड्रिंक है. यह गर्मियों में शरीर के तापमान को बैलेंस रखता है, इसके अलावा या शरीर को डिटॉक्सीफाई भी करता है.

न्यूट्रिशनल वैल्यू:

नीम्बू में भरपूर विटामिन सी पाया जाता है. शिकंजी में कुल मिलकर आपको विटामिन बी, कैल्सियम, मैग्नीशियम और कार्बोहाइड्रेट तत्व प्राप्त होंगे.

  1. तरबूज और पुदीने का जूस

सामग्री:

तरबूज: 3 कप
पुदीना पत्ता: 1 कप
चीनी: आवश्यक्तानुसार
काला नमक: 1 चम्मच

कैसे बनाये:

तरबूज के टुकड़ों को सारी सामग्री के साथ मिक्स करें और गिलास में डालकर आइस क्यूब और पुदीना पत्ते के साथ सर्व करें

फायदे:

तरबूज का जूस गर्मियों में प्यास बुझाने के साथ ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है. हाइपर एसिडिटी की समस्या है तो आम पना या शिकंजी की जगह तरबूज का जूस अच्छा रहेगा.

न्यूट्रिशनल वैल्यू:

पोटैशियम और बीटा कैरोटीन का प्राकृतिक श्रोत है तरबूज. इसे काले नमक के खाने से हाजमा दुरुस्त रहता है.

  1. आम पना

सामग्री:

कच्चे आम(माध्यम आकर):5-6
चीनी: 3 बड़े चम्मच
काला नमक: 1 बड़ा चम्मच
लाल मिर्च पाउडर: 1 छोटा चम्मच
भुना जीरा पाउडर: 2 चम्मच
पुदीना पत्ता ( कटा हुआ): 2 चम्मच

कैसे बनाये:

कच्चे आम को पानी के साथ 10-15 मिनट तक उबाले. फिर ठंडा होने के बाद आम का छिलका हटाकर गूदा निकाले. कटा पुदीना पत्ता, जीरा पोडर, मिर्च पाउडर, चीनी और नमक सबको एक साथ मिक्स करे. बस हो गया तैयार.

आम पना को आप एक सप्ताह तक फ्रिज में रख सकते हैं. जब भी इसे सर्व करना हो , लगभग एक गिलास में एक तिहाई हिस्सा आम पना और दो तिहाई हिस्से पानी को मिला कर मिक्स करें और पुदीना पत्तियों के साथ सर्व करें.

फायदे:

गर्मियों में लू से बचाता है. इसलिए धुप में निकलने से पहले आम पना जरूर पियें.

न्यूट्रिशनल वैल्यू:

इसमें प्रति गिलास कैलोरी ११८ है जो चीनी के अनुसार काम ज्यादा हो सकती है.

  1. पंजाबी लस्सी

सामग्री:

ताजा दही: 2 कप
धनिया पत्ता बारीक कटा: 4 चम्मच
पुदीना पत्ता बारीक कटा
सौंफ और जीरा पाउडर: 1-1१ चम्मच
नमक: स्वादानुसार
चीनी: आधा छोटा चम्मच

कैसे बनाये:

दही को अच्छी तरह फेंटे.फेंटते हुए इसमें जरूरत के हिसाब से ठंडा पानी भी मिला सकते हैं. मगर ध्यान रहे दही ज्यादा पतला न होने पाए. धनिया और पुदीने को छोड़कर साड़ी सामग्री को इस घोल में डालकर अच्छी तरह मिला ले. धनिया और पुदीने की पत्तियों से सजावट करें और सर्व करें.

फायदे:

पुदीने से लू, बुखार, जलन व गैस और उलटी की शिकायत दूर हो जाती है. दही शरीर को शीतलता प्रदान करता है.

  1. बेल का जूस

बेल का शरबत पीने से शरीर का तापमान सामान्य रहता है. बेल के शरबत में दही, आजवाइन, नीम्बू और काला नमक मिलाकर पीने से इसका स्वाद तो बढ़ता ही है, आपका पेट भी साफ़ रहता है.आतिसार, पेचिस के रोगियों के लिए यह काफी फायदेमंद है. यह फैट को भी काम करता है.

  1. सत्तू

गर्मी में नाश्ते में सत्तू बहुत फायदेमंद है. यह पेट की गर्मी को शांत करता है. हालांकि गाँवों में यह घर-घर में मिल जाता है, पर अब शहरों में बने बनाये पैकेट्स में सत्तू उपलब्ध है. जौ, चना,चावल आदि का सत्तू गर्मियों में पसंद किया जाता है. इसे पानी में मिलकर पियें या फिर आते की तरह गूंदकर खाएं. स्वाद के लिए नमक या शक्कर का इस्तेमाल कर सकते हैं. नमकीन सत्तू को प्याज और आम के अचार के साथ खाने से इसका स्वाद दोगुना हो जाता है.

 

साभार: रूपायन, अमर उजाला


About

Leave Comment