mandawali sisters

रोजगार, बुलेट ट्रेन और डिजिटल क्रान्ति के दौर में भूख से 3 बच्चियों की मौत, जवाब कौन देगा?

इतना भयावह और दर्दनाक और क्या हो सकता है की उनके घर पर पिछले कई दिनों से चूल्हा जलता नहीं देखा गया. छोटे छोटे बच्चे और घर में अन्न का दाना नहीं. बाप रोजगार की तलाश में पता नहीं कहाँ गया है, शायद उसे तो पता ही नहीं होगा की उसकी तीनों परियां अब इस दुनिया में नहीं हैं.