अंतरिक्ष

कार्दाशेव स्केल के अनुसार ब्रह्माण्ड में हम किस लेवल की विकसित सभ्यता पर हैं?

अगर हम मानव विकास के क्रम को छोड़ सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड में विकास की बात करें तो….. तो इसके लिए हमारे वैज्ञानिकों ने बहुत सारी रिसर्च की. इसमें से एक रिसर्च है वैज्ञानिक कार्दाशेव की. इन्होने सभ्यता को मापने के लिए एक पैमाना तैयार किया है, आइये जानते हैं कार्दाशेव और उनकी थ्योरी के बारे में.

10 ग्रह जहां जाने से पहले आपकी रूह काँप जायेगी

अगर हम अपने सौर मंडल की बात करें तो 9 ग्रहों के साथ 200 से भी ज्यादा चन्द्रमा और छुद्र ग्रह हैं. पृथ्वी को छोड़कर अगर किसी और ग्रह की बात करें तो सब पथरीले और खतरनाक ग्रह हैं जहां पर रहने की बात तो दूर वहाँ जाने के नाम से ही रूह काँप जायेगी.

अंतरिक्ष विज्ञानियों को मिले पृथ्वी के 7 भाई बहन, जीवन की संभावना!

अपनी पृथ्वी से 40 प्रकाश वर्ष दूर पृथ्वी के जैसे ही 7 ग्रह मिले हैं. वैज्ञानिकों को पूरी सम्भावना है की वहां पर जीवन और पृथ्वी जैसा वातावरण हो सकता है.

ISRO ने किया एक रॉकेट से रिकॉर्डतोड़ 104 उपग्रहों का प्रक्षेपण – दुनिया हैरान

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ISRO ने बुधवार को एक नयी उपलब्धि हासिल करके पूरी दुनिया में तहलका मचा दिया. भारत ने PSLV-C37 रॉकेट के जरिये एक बार में 104 उपग्रह लांच किये और यह संख्या अब तक की सबसे अधिक है.

दुनिया भौचक रह गयी जब भारत ने पहला ‘मेड इन इंडिया’ स्पेस शटल लॉन्च किया

आज दुनिया उस समय आश्चर्यचकित रह गयी जब भारत ने स्वनिर्मित दोबारा इस्तेमाल हो सकने वाले स्पेस शटल को लांच किया. RLV-TD (रियुजेबल लांच व्हीकल – टेक्नोलॉजी डेमोंस्ट्रेटर) पूरी तरह इसरो द्वारा निर्मित है जिसे आंध्र प्रदेश के श्री हरिकोटा से लांच किया गया है.

Load more
Loading...
No More Posts