Saturday, October 21, 2017
Home खबरें और राजनीति

खबरें और राजनीति

Wow! Cheapest Phone Freedom 251 Delivery Staring from 28-Jun

खुशखबरी: फ्रीडम 251 की कैश ऑन डेलिवरी 28 जून से शुरू

रिंगिंग बेल्स कंपनी ने दावा किया है की वो अपने सबसे सस्ते फोन फ्रीडम 251 को 28 जून से डेलिवरी देना चालू कर रहे हैं.
Just Politics on Kairana

कैराना कांड पर कुछ लाइने

चलो चले कुछ राजनीति कर आएं, 2017 आ गया है, चलो अपनी सरकार बनाये, न हिन्दू लड़ें, न मुस्लिम लड़ें, चलो इन हिन्दू मुस्लिमों को लड़ायें,
Tina Dabi - Civil Services Topper, Really or Not

टीना डाबी: सिविल सेवा टॉपर – क्या वास्तव में वो अयोग्य है?

अब बात करते हैं टीना डॉबी और अंकित की जिनका मेसेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है की अंकित के ज्यादा नंबर होते हुए भी वो फेल हो गया और टीना के काम नंबर होते हुए भी वो आरक्षण के सहारे पास हो गयी.
Who Says Casteism is Ended in India?

भारत में जातिवाद: कौन कहता है जातिवाद ख़त्म हो गया है?

अभी कुछ दिनों की बात है, महाराष्ट्र के वाशिम जिले के कलाम्बेश्वर गाँव में रहने वाले बापूराव ताजडे की पत्नी को पड़ोसियों ने सिर्फ इसलिए कुएं से पानी नहीं भरने दिया क्यूंकि वो नीची जाति से थी.
Why India needs Bullet Train

देखें जापान से कितनी सस्ती है भारत की बुलेट ट्रेन

हम सब भारतवासी देश की पहली बुलेट ट्रेन चलने का बेसब्री से इन्तजार कर रहे हैं. इसी कड़ी में रेल मंत्रालय ने बुलेट ट्रेन...
Funny Truck Writings and Slogans in India

ये ट्रक वाले भी ना, क्या क्या लिखते हैं

हमारे देश में ट्रकों पर बहुत सारे सदविचार लिखे हुए मिल जाते हैं, लेकिन कभी कभी ये इतने फनी भी हो जाते हैं की हंसने को दिल करता है.
Last Tea Shop of India

क्या आपने भारत की आखिरी चाय की दूकान देखी है?

उत्तराखंड के चमोली जिले में भारत-तिब्बत की सीमा से लगभग 24 किलोमीटर दूर एक गांव में भारत की अंतिम चाय की दूकान है. दरअसल यह गाँव ही भारत का अंतिम गाँव है. या यूँ कहें उधर से आने वालों के लिए यह भारत का पहला गाँव है और चाय की यह पहली दूकान है.
Life - Sorrow and Joy

सुख और दुःख – बस यही तो है जिंदगी

इस कृषि प्रधान भारत देश को स्वतंत्र हुए साठ साल से भी ज्यादा हो गए हैं लेकिन किसानों की दशा वहीं की वहीं है. किसान तब भी कर्ज में डूबा था और अब भी कर्ज में डूबा है, पहले साहूकारों का, और अब खाद बीज वालों और आढ़तियों का.
Attention! There may be a Camera - Funny Image

सावधान – कैमरे कहीं भी हो सकते हैं

आजकल कैमरों का बड़ा जोर है. बड़े से लेकर छोटे कैमरे कहीं भी मिल जाते हैं. पहले सिर्फ नेगेटिव या रील वाले ही कैमरे होते थे पर अब तो डिजिटल कैमरों ने दुनिया ही बदल दी. मोबाइल में कैमरा, कहीं भी निकल और चालू हो गए, फोटो खींचने में या फिर वीडियो बनाने में.
Condition of Hindi in India

हिन्दुस्तान की हालत का अंदाज़ा लगाओ

अपनी मातृ भाषा की किस तरह धज्जियाँ उड़ाते हैं ये सरकारी नोटिस बोर्ड. क्या आपने गौर किया है इस तरह के नोटिस बोर्ड पर?