यात्रा

चारधाम यात्रा अब डिजिटल: उत्तराखंड सरकार के पर्यटन विभाग ने चारधाम यात्रियों के लिए लांच किया एंड्राइड मोबाइल ऍप

चारधाम यात्रा में आने वाली कठिनाइयों को देखते हुए उत्तराखंड सरकार के पर्यटन विभाग ने पिछले वर्ष “एक्सप्लोर आउटिंग” (Explore Outing ) नाम की एंड्राइड मोबाइल ऍप लांच की थी.

10 मिनट में हेलीकॉप्टर से दिल्ली दर्शन, वो भी केवल 2500 रुपये में

अभी तक केवल वीआईपी लोग ही हेलीकाप्टर में बैठ और घूम पाते थे, लेकिन अब आप भी हेलीकाप्टर से दिल्ली की सैर कर सकते हैं और वो भी मात्र 2500 रुपये में.

हमारे देश का पासपोर्ट कितना ताकतवर है, जानिये किन किन देशों में बिना वीजा यात्रा कर सकते हैं

भारतीय पासपोर्ट धारक 49 देशों की यात्रा बिना वीजा के कर सकता है, या फिर उस देश में पहुँचने पर तुरंत वीजा बन सकता है जबकि पाकिस्तान 27 देश, चीन 45 देश व बांग्लादेश के लोग केवल 37 देशों की यात्रा कर सकते हैं. यही पासपोर्ट की ताकत है.

ये 10 स्थान अगर अभी नहीं देखे तो फिर कभी नहीं देख पाएंगे

आइये हम आपको बताने जा रहे हैं 10 ऐसी जगहों के बारे में जो धीरे – धीरे ख़त्म हो रही हैं और कुछेक वर्षों में ये या तो पूरी तरह ख़त्म हो जाएंगी या फिर उनके अवशेष ही देखने को मिलेंगे.

राधा कृष्ण की धरती के बारे में कुछ अनजानी बातें – गोवर्धन परिक्रमा

गोवर्धन पर्वत का हिन्दू धर्म में बहुत ही अधिक महत्त्व है. इसकी परिक्रमा करने से सभी मुरादें पूरी हो जाती हैं. 21 किलोमीटर की गोवर्धन परिक्रमा को लोग नंगे पाँव पूरा करते हैं तो कुछ लोग लोट – लोट कर इसकी परिक्रमा लगाते हैं. यहां परिक्रमा लगाने का कोई नियत समय नहीं है. लोग साल के 365 दिन यहां परिक्रमा लगाते हैं लेकिन हर महीने की पूर्णमासी को यहाँ बेशुमार भीड़ होती है.

दुनिया की सबसे खूबसूरत इमारत, इसे नहीं देखा तो कुछ नहीं देखा: नासिर अल मुल्क मस्जिद

‘नासिर अल-मुल्क’ मस्जिद, जो बाहर से एक साधारण मस्जिद की तरह ही दिखाई देती है, लेकिन जब उगते सूरज की किरणें इस मस्जिद पर पड़ती हैं तो इसकी खूबसूरती में चार चाँद लग जाते हैं . इसकी खूबसूरती को देखने के लिए दुनिया भर के पर्यटक खिंचे चले आते हैं.

दुनिया के रहस्यमय स्थान जहां जाना खतरे से खाली नहीं

यह दुनिया अजीबोगरीब और रहस्यमय चीजों से भरी पड़ी है. इन रहस्यमयी चीजों की उत्सुकता हम सभी को होती है लेकिन इस दुनिया में बहुत से जगहें ऐसी हैं जो पढ़ने में रहस्य और रोमांच पैदा करती हैं लेकिन वहाँ जाने की हिम्मत किसी भी साधारण व्यक्ति की नहीं पड़ेगी.

क्या आपने भारत की आखिरी चाय की दूकान देखी है?

उत्तराखंड के चमोली जिले में भारत-तिब्बत की सीमा से लगभग 24 किलोमीटर दूर एक गांव में भारत की अंतिम चाय की दूकान है. दरअसल यह गाँव ही भारत का अंतिम गाँव है. या यूँ कहें उधर से आने वालों के लिए यह भारत का पहला गाँव है और चाय की यह पहली दूकान है.

लाल किला – दिल्ली का मुख्य पर्यटन स्थल

दीवान-ए-खास, राजा के मंत्रिमंडल एवं निजी सभाओं के लिए है. इसकी वास्तुकला देखने लायक है, इसमें खम्भों पर पेट्रा ड्यूरा का बहुत सुन्दर काम किया गया है. यहीं पर विख्यात मयूर सिंहासन स्थित था जिसे लुटेरा नादिरशाह लूट कर ईरान ले गया था.